Vardhapan Din

Vardhapan Din

Pushpam Priya Chaudhary Plurals Party founder in Bihar Assembly elections Logo Horse with wings प्लूरल्स पार्टी की संस्थापक पुष्पम प्रिया चौधरी पुरे दमखम के साथ बिहार विधानसभा के चुनाव में


Pushpam Priya Chaudhary Plural Party Logo Horse with wings

Plurals Party founder Pushpam Priya Chaudhary in Bihar Assembly elections

प्लूरल्स पार्टी की संस्थापक पुष्पम प्रिया चौधरी पुरे दमखम के साथ बिहार विधानसभा के चुनाव में 

सारी दुनीया कोरोना से त्रस्त है, और इधर बिहार में चुनाव का बुखार हर किसी के सर चढकर बोल ही नही रहा, चिल्ला भी रहा है.  कोरोना जो अभीतक एक हौवा बना हुआ था, वह सारे नेताओं की रॅली, सभा देखकर; डर के मारे उडन छु हो गया लगता है. चुनाव के इस दंगल में (Prime Minister Narendra Modi) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, (CM Nitish Kumar) मुख्यमंत्री नितीश कुमार, (Rahul Gandhi) राहुल गांधी, (Tejaswi Yadav) तेजस्वी यादव, (Chirag Paswan) चिराग पासवान के साथ ही सारे नेतागण काम पर लग चुके है. लेकीन इन सारे जानेमाने, नामीगिरामी हस्तीयों के बिच एक नाम बडी ही तेजी से आया है, जो की सोशियल मिडीया पर इनसे जादा सुर्खीयॉ बटोर चुका है और बटोर रहा है. इतना ही नही चुनाव मैदान में उतरने के साथ ही यह मुख्यमंत्री पद की भी दावेदार हो चुकी है. जी हॉ, वह नाम है पुष्पम प्रिया चौधरी. बिहार ही नही, सारे भारतवर्ष में या कहे दुनीयॉ में उनके नाम का तहलका मचा है. Plurals Party founder Pushpam Priya Chaudhary in Bihar Assembly elections प्लूरल्स पार्टी की संस्थापक पुष्पम प्रिया चौधरी पुरे दमखम के साथ बिहार विधानसभा के चुनाव में 

Who is Pushpam Priya Chaudhary ?
कौन है यह पुष्पम प्रिया चौधरी ? 

पुष्पम प्रिया चौधरी यह विनोद चौधरी जो की जनता दल युनायटेड (JDU) से एमएलसी रह चुके है उनकी पुत्री है. यह दरभंगा जिले की रहने वाली है. पुष्पम प्रिया चौधरी ने लंदन से मास्टर्स डिग्री हासील की है. पढाई के बाद बिहार बदलने की ठान कर उन्होने राज्य में आकर प्लूरल्स पार्टी की स्थापना की. इतना ही नही, फिलहाल राज्य के बहोत से सिटो पर उनके उम्मीदवार चुनाव में खडे है. खुद वह भी दो सीटो से चुनाव लढ रही है, जिनमें बिस्फी और बांकीपुर शामील है. 

चुनाव के मद्देनजर, राज्य के सारे अखबारों मे विज्ञापन देकर उन्होेने खुद को बिहार का अगला मुख्यमंत्री बताना शुरु कर दिया था.  एक प्रबल राजनितीक ईच्छाशक्ती के चलते क्या नही हो सकता. उनका पार्टी बनाना, खुद को मुख्यमंत्री पद का दावेदार बतलाना, पार्टी के बहोतसे उम्मीदवार खडे करना अपने आप में एक उपलब्धी जैसा ही है. एक पढा लिखा व्यक्ती केवल क्षेत्र के विकास के नाम पर खडा होने के बारे में वहापर सोचना जहॉ पर जात के नाम के बगैर चुनाव के बारे में सपने में नही सोचा जा सकता, एक बहोत बडी बात है. वह खुद ही अपनी पार्टी की मुख्य प्रचारक के रुप में मेहनत कर रही है. और एक नये जोश और चेहरे के आने के कारण जनता का देखने का नजरिया भी बदल रहा है. जनता बदलाव चाहती है, वो ही वो चेहरे देखकर और बाते सुनकर उनका विश्‍वास जवाब दे रहा है. ऐसे में एक उच्च शिक्षित युवा जो की केवल और केवल विकास की चाह में है, उससे जुडने के लिये लोग सोच सकते है. 

Pushpam Priya Chaudhari पुष्पम प्रिया चौधरी खुद कहती है, की अगर उन्हे मौका मिला तो २०२० से २०२५ तक बिहार में विकास और प्रशासकीय सुधार लाकर वह उन्हे भारत के अग्रगण्य राज्य की श्रेणी में ले आयेगी. इतनाही नही अगर २०३० तक अगर जनता चाहे तो वह बिहार को एक आंतरराष्ट्रीय देशो के बराबरी में खडा कर देंगी. शिक्षा, कृषी और उद्योग यही विकास के संबल हो सकते है. इसी पर जोर देकर और इसी के नाम पर वह जनता से वोट मांग रही है. टिव्ही, कॅमेरा पर आने के बजाए जनता के बिच में जाकर जनसंपर्क द्वारा काम करने पर वह जादा जोर देती है. 

Pushpam Priya Chaudhari पुष्पम प्रिया चौधरी की पार्टी का नाम Plurals Party प्लूरल्स पार्टी है और उनका Logo लोगो है Horse with Wings पंख लगा हुआ घोडा. जात और धर्म को वह राजनिती से नही जोडना चाहती और वह इसके सख्त खिलाफ है. उनके साथ सभी जाती, धर्म, पंथ के लोग जुडे हुये है. उनके विचार, कार्य, मेहनत, कार्य पद्धती और जनता के मुड में खुद भी एक बदलाव की चाहत उनको बहोत बडे पैमाने पर जनता के साथ जोड रहा है. जनता का समर्थन उन्हे और उनकी पार्टी को कितना मिलता है, यह तो वक्त ही बतायेगा. लेकिन वह अपने पार्टी के प्रत्याशीयों के लिए पूरी मेहनत ले रही है और जनता भी बड़े पैमाने पर उनके साथ जुड़ रही है, जो की अपने आप में एक बहोत बड़ी बात है. 

Share on Google Plus

About Janta Parishad

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Janta Borewells

Janta Borewells
Janta Borewells